Search This Blog

Followers

Thursday, December 17, 2009

ऑनलाइन की दुनियां

कुछ दिन पहले जब सुबह-सुबह मिश्रा जी से मुलाकात हुई तो उन्हें देखते ही महसूस हुआ कि वो काफी परेशान लग रहे थे। परेशानी का कारण जानने पर उन्होने बताया कि आज तीन दिन हो गये है मेरी पत्नी सब्जी लेने बाजार गई थी, लेकिन उसके बाद से उसका कुछ पता नही कि वो कहां और किस हाल में है? इससे पहले कि मैं कुछ बोलता पास खड़े मेरे पोते ने कहां कि इस में घबराने की क्या बात है, आप उन्हें इंटरनैट पर ढूंढ लो। आपको एक मिनट में आंटी के बारे में सारी जानकारी मिल जायेगी। मिश्रा जी ने हैरान होते हुए कहा कि तुम्हें कैसे मालूम कि इंटरनैट तुम्हारी आंटी के बारे में सब कुछ जानता है। मेरे पोते ने कहा, कमाल है अंकल आप इतना भी नही जानते कि आजकल इंटरनैट पर हर चीज के बारे में सारी जानकारी होती है। जब भी कोई बच्चा, बर्जुग या कार आदि गुम हो जाती है तो, पुलिस वाले झट से सारी जानकारी अपनी साइट के माध्यम से ऑनलाइन कर देते है। मुझे तो अपने स्कूल से जो कुछ भी होमवर्क मिलता है, मैं तो झट से सारा काम इसी की मदद से कर लेता  हूँ। इसीलिए स्कूल में मेरा काम सबसे अच्छा माना जाता है और मुझे सबसे अधिक अंक मिलते है। दो-तीन दिन से परेशानी में डूबे होने के बावजूद मिश्रा जी इतने छोटे से बच्चे के मुख से इंन्टरनैट और आनॅलाइन के बारे में कमाल की जानकारी सुन कर मेरे पोते की तारीफ किये बिना नही रह सके।
आज के दिन आप किसी भी व्यवसाय, बैंक, शेयर बाजार के व्यापार से जुडे है, आपको बिजली-पानी, फोन का बिल अदा करना हो या कोई सरकारी टैक्स जमां करवाना हो, अब इन सभी कामों के लिए आपको सारा-सारा दिन सड़को की धूल में परेशान होने की कोई जरूरत नही। हर घर में इस्तेमाल होने वाली रोजमर्रा की सभी वस्तुओ, बच्चो की आधुनिक पढ़ाई से लेकर पूरे विश्व में व्यापार के लेन-देन में आज कम्पूयटर ऑनलाइन का बहुत बड़ा योगदान है। आज समाज का कोई भी वर्ग ऐसा नही है जो विज्ञान की इस अनमोल सफलता से अछूता हो। अब तक विज्ञान के सभी करिश्मों की सूची में यदि ऑनलाइन तकनीक का नाम सर्वप्रथम रखा जाये तो गलत न होगा। ऑनलाइन ने जहां सूचना के अदान-प्रदान का कार्य सबसे आसान किया है, वही हर किस्म के व्यापार जगत के लिए इसने सारी दुनियां को एक ही मचान पर ला कर खड़ा कर दिया है। दूसरे देशो की तरह ऑनलाइन के ज़रिए अपने छोटे से छोटे कारोबार को दुनिया भर में फैला कर सफलता की बुलदिंयों और धन कमाने में आज हमारे देशवासी भी किसी से पीछे नही है।
इस में कोई दो राय नही हो सकती कि कम्पूयटर की ऑनलाइन कं्राति ने हमारी जीवन शैली और कारोबार जगत की दुनियां का इतिहास ही बदल डाला है। कल तक जहां हमें अपने ही देश के शहरों में बने उत्पाद के बारे में जानकारी प्राप्त करना एक कठिन काम था, आज घर में इस्तेमाल होने वाली छोटी से छोटी चीज से लेकर हर प्रकार के जरूरी समान, खिलोने, दवाईयां और अर्न्तराष्ट्रीय उद्योग से जुड़े उत्पादो की जानकारी और उन्हें जल्द से जल्द पाने की मंशा कम्पूयटर पर कुछ उंगलियों के घुमाने से पूरी हो जाती है। आज की आधुनिक नारी भी ऑनलाइन प्रणाली का भरपूर लाभ उठा रही है। इस तकनीक की बदौलत आज की औरते जहां आत्मनिर्भर हो रही है वही समाज से नारी जाति का उत्पीड़न भी बहुत हद तक कम हो रहा है। अब औरतो को घर से बाहर जाकर न तो अकेले रहने की जरूरत है और न ही नौकरी के लालच में कुछ स्वार्थी लोगो के हाथो बेवकूफ बनने की।
आप दुनियां के किसी भाग से कुछ भी खरीदना या बेचना चाहते है तो अब आपको उसके लिए न तो देश-विदेशो के बाजार के चक्क्र लगाने की जरूरत है और न ही आपको लाखो रूप्ये खर्च करके अलग-अलग जगह जा कर अपने उत्पाद की प्रदर्शनी लगाने की। इसी के साथ आपको अलग-अलग देश की भाषा सीखने की परेशानी को भी आनॅलाइन की सुविधा ने बिल्कुल सरल बना दिया है। यह सारा काम आप ऑनलाइन के माध्यम से अपने घर या दफतर में बैठे हुए बहुत ही आसानी से कर सकते है। अब न सिर्फ आप अपने उत्पाद के बारे में बल्कि अपनी कम्पनी और अन्य सभी प्रकार की जानकारी अपने ग्राहको को पल भर में मुहैया करवा सकते है। हर उंम्र के लिए नवीनतम ऑनलाइन गैंम्स जहां मनोरजन के साथ छोटे-बड़ो के ज्ञान में तेजी से बढ़ावा करती है, वही आज की इस होड़ की दोड़ में दूसरे प्रतियोगियो से आपको कही आगे रखती है। बच्चो के लिये तो ऑनलाइन रोचक और मजेदार खेल किसी जादू या करिशमें से कम नही होते। व्यापार के अलावा पूरी दुनियां के ई-समाचार पत्र ऑनलाइन उपलब्ध होने से समय और पैसो की बचत के साथ दुनियां की हर नई वस्तु की जानकारी हमें पल-पल घर बैठे ही मिल जाती है। व्यापारी वर्ग जहां अपने उत्पाद के विज्ञापनों के लिए इसका भरपूर लाभ उठा रहे है, वही उपभोक्ता उसे खरीदने से पहले अपने घर में फुर्सत और सुविधानुसार उनकी तुलना मिलते जुलते समान से कर सकता है।
पहले जहां हर खुशी के मौके पर विदेशो में बसे प्रियजनों को याद करके घरवालों का बुरा हाल हो जाता था। आज ऑनलाइन व्यापार के चलते जन्मदिन हो या अन्य किसी प्रकार के उत्सव पर केक से लेकर सभी तरह के तोहफे एक दूसरे को भेज कर खुशी के पलों में कई गुणा इजाफा कर सकते है। जो बहनें पहले कई बरसों तक अपने भाईयों की कलाईयों पर राखी बांधने को तरसती थी, आज ऑनलाइन सुविधा के चलते वो अपने भाईयों को राखी के साथ मनपंसद मिठाईया, चाकलेट आदिं भी भेज सकती है। कई बार कुछ मरीजो को समय से पहले केवल इसलिये दुनियां को अलविदा कहना पड़ता था क्योंकि जान बचाने वाली कुछ दवाईयों को समय पर मुहैया करवाना नामुमकिन था। ऑनलाइन ने जहां इस सारे काम को प्रभावी ढंग से आसान बनाया है उसी के साथ समय और लागत में भी भारी कमी आई है।    
यह सच है कि ऑनलाइन के चलते बड़ी-बड़ी कम्पनियां अपने ही घर-दफतर में बैठे हुए सारी दुनियां के साथ आज लाखो-करोड़ो रूप्ये का व्यापार कर रही है। परन्तु जैसे एक मछली सारे तालाब को गंदा करती है, ठीक उसी प्रकार कुछ लोग जल्द से जल्द अधिक पैसा कमाने की चाह में व्यापार करने की इस करिश्माई सुविधा का गलत फायदा उठाते हुए अपने ग्राहको को घटिया किस्म का सामान भेज कर इसे बदनाम कर रहे है। व्यापार में जो व्यक्ति अपनी नैतिकता खो देता है तो उसके लिये यह कहना पड़ेगा कि वो अपना सब कुछ खो देता है। इस तरह की छोटी सोच रखने वाले फिर सारी उंम्र रोते रहते है। ऐसे लोग अक्सर यह भूल जाते है कि ईमानदारी और परिश्रम का फल देर से पकता है परंतु बहुत मीठा होता है, इसलिये जीवन में किसी काम को करने के बाद नहीं, उसे करने से पहले उसके लाभ हानि के बारे में सोचना चाहिए।
आज हर छोटे बड़े शहर में टै्रफ्रिक की गंभीर सम्सया पैदा हो चुकी है। कोई भी इंसान टै्रफ्रिक सम्सयाओं से जद्दोजहद करने के बाद अपने दफतर पहुंचने पर 100 प्रतिशत योगदान नही दे सकता। इस दौड़-भाग में किसी भी अच्छे भले इंसान का मूड सारे दिन के लिए खराब हो जाता है। ऐसे में ऑनलाइन काम करना एक बहुत ही अच्छा विकल्प बन कर ऊबर रहा है। अब यदि आप ऑनलाइन काम अपने ही घर से बैठकर करते है तो मंहगे दफतर के भारी खर्च बचाने के साथ इसे बेहतर ढंग से किया जा सकता है। किसी भी क्षेत्र में सफलता पाने का सीधा संबंध परिश्रम से होता है। जो व्यक्ति परिश्रम से डरते है वह कभी भी सफलता नही पा सकते। ऑनलाइन व्यापार करने वालो को एक बात सदैव याद रखनी चहिये कि योग्यता, ईमानदारी और धैर्यशीलता के समक्ष हर कोई घुटने टेकने पर मजबूर हो जाता है।
आज भी बहुत से व्यापारी कभी अच्छे ग्राहको के अभाव के चलते और कभी मंदी का रोना रोकर अपनी किस्मत को कोसते रहते है। जबकि असलियत तो यह है कि किस्मत को कोसने वाले जीवन में कुछ नहीं कर पाते। आज के इस युग में आधुनिक तकनीक के साथ थोड़ी सी मेहनत करने वाले किस्मत तक को बदल डालते हैं। जिस प्रकार कुछ लोगो को अंधेरे से बहुत डर लगता है, तो ऐसे में अपनी आखें बन्द कर लेने को कोई भी समझदारी नही कहेगा। सिर्फ जरूरत है तो मन से इस डर को खत्म करने की। कम्यूटर की ऑनलाइन पद्ति के बारे जानकारी न होना कोई दोष नही है, ऐसे काम को सीखने की कोशिश न करना सबसे बड़ा दोष है। यह जरूरी नही कि हमें हर काम में शुरू से ही सफलता मिले, किसी काम को सिध्द करने के लिए शुरूआती तौर पर मिलने वाली असफलता से कभी भी घबराना नही चहिये। अगर आप हर कार्य खुशी से करेंगे तो आपको कोई भी कार्य मुश्किल नही लगेगा।
आज के इस तेजी से बदलते युग में कोई भी अच्छा व्यापारी खुद को आनलाइन से दूर रख कर अपनी कामयाबी के ख्वाब को पूरा नही कर सकता। जोली अंकल की सोच भी अब तो यही कहती है कि जो लोग हिम्मत से काम लेते वो समय और आधुनिक तकनीक का पूरा फायदा उठा लेते है जबकि जो लोग नई तकनीक से काम करने के तरीके से दिल चुराते हैं, समय उन्हें पीछे छोड़कर आगे बढ़ जाता है।                   

1 comment:

डा. हरदीप सँधू said...

सही कहा आप ने....
इंन्टरनैट और आनॅलाइन
का ज़माने में कोई इस के बारे में हैरानी से आँखे फाड़-फाड़ कर पूछे कि यह कौन सी चिड़िया का नाम है तो आप जान ही सकते हैं कि वो कौन सी दुनिया में जी रहा है....